हिंदी Eng 

बिहान से आजीविका का साधन पाकर महिलाएं बन रही है आत्मनिर्भर और स्वावलंबी

छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन “बिहान” के अंतर्गत संचालित महिला स्व-सहायता समूह महिलाओं के लिए वरदान साबित हो रहे हैं. कोरिया जिले के विकासखंड खडगवां के ग्राम धनपुर की आरती और साक्षर महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं सामूहिक रूप से आत्मनिर्भर और स्वावलंबी बनने की ओर कदम बढ़ा रही हैं. ग्राम धनपुर निवासी आरती और साक्षर महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताती हैं कि “पहले हमारे पास कोई रोजगार नहीं था जिसके कारण हमें आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता था. छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के अंतर्गत दो लाख रू. का बैंक ऋण और 30 हजार रू. रिवाल्विंग फंड से राशि प्राप्त कर निर्माण कार्यों के लिए मिक्स्चर मशीन खरीदकर स्व-रोज़गार की शुरुआत की. आज मिक्स्चर मशीन को किराये पर देकर प्रतिदिवस एक हजार 400 रूपये कमा रही हैं. साथ ही उसी मिक्स्चर मशीन के साथ काम करके मजदूरी भी प्राप्त कर रही हैं. छत्तीसगढ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन “बिहान” से आजीविका का साधन पाकर आज हम सभी महिलाएं सशक्त व आत्मनिर्भर बनने सक्षम हुई हैं.”